Subscribe for

फालना हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी क़ामयाबी।

Falna Murder Case

बिंदुओं में जाने मामला क्या है?

  • मुंबई निवासी आरोपी नोवी निवासी (हाल ज़ावेरी बाज़ार मुंबई) भरत वैष्णव पुत्र श्री नवलदास वैष्णव ने सुपारी देकर करवाई थी हत्या।
  • अरविन्दकरण सिंह पुत्र छत्तर सिंह देवड़ा निवासी मौछाल ने ली थी हत्या की सुपारी।
  • 10 लाख रुपये की मिली थी हत्यारों को सुपारी।
  • ईश्वर सिंह पुत्र नरपत सिंह देवड़ा व भरत वैष्णव पुलिस हिरासत में।

विस्तृत में जानें –

बिते दिनों फालना कस्बे में हुए व्यापारी कानसिंह हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता। 20 अगस्त को सांडेराव रोड पर चाय की होटल पर हुई वारदात में कानसिंह की गोली मारकर निर्मम हत्या हुई थी। इस हत्याकांड के सारे पेंच सुलझते नज़र आ रहे है। नोवी (हाल मुंबई) निवासी भरत वैष्णव ने सिरोही ज़िले के मोछाल निवासी अरविंदकरण सिंह देवड़ा को दी थी हत्या की सुपारी।आपसी रंजिश के तहत करवाई गयी थी हत्या। मृतक कानसिंह व आरोपी भरत वैष्णव साझेदारी में करते थे ज़मीन के सौदे का काम। भरत वैष्णव के फालना से मुंबई आते-जाते दरमियान टिकट बुकिंग के सिलसिले में हुई थी दोनों की दोस्ती।

भरत वैष्णव ने अरविंदकरण सिंह देवड़ा को दी थी 10 लाख रुपये की सुपारी। 5 लाख रुपये दिए थे एडवांस। ईश्वर सिंह की होटल वृन्दावन से होती थी आरोपी व हत्यारे के बिच बातचीत। कुछ समय पहले आरोपियों ने सुमेरपुर में की थी मुलाकात। वही से रची थी हत्या की साजिश।

भरत वैष्णव व ईश्वर सिंह पुलिस गिरफ्त में। इन्हे पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। इस मामले से जुड़े अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

ख़बर पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक़।

Also Read:


(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

2 thoughts on “फालना हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी क़ामयाबी।”

Leave a Reply